AMBIKAPUR: जनमन योजना के बेहतर क्रियान्वयन, धान खरीदी, रेडी टू ईट और मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता, छात्र-छात्राओं की पढ़ाई और सुरक्षा पर कलेक्टर के विशेष निर्देश

समय सीमा की बैठक संपन्न

श्रम, आबकारी और माइनिंग विभाग को सूचना तंत्र को मजबूत कर आवश्यक कार्यवाही के निर्देश

कलेक्टर श्री विलास भोस्कर ने मंगलवार को आयोजित समय सीमा की बैठक में पीएम जनमन योजना की प्रगति की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने जनमन योजना से संबंधित सभी विभागों को विशेष पिछड़ी जनजाति के लोगों के बेहतर विकास हेतु शासन की मंशानुरूप काम करने निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि सभी निर्माण एजेंसियां टेंडर आदि की प्रक्रिया पूर्ण करें जिससे समय पर निर्माण कार्य शुरू हो सकें। उन्होंने धान खरीदी में शेष दिनों में अवैध धान की आवक, मिलिंग, धान का उठाव, नोडल अधिकारियों द्वारा समिति में भौतिक सत्यापन सहित विभिन्न बिंदुओं पर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने खाद्य अधिकारी को अनिवार्य रूप से प्रतिदिन की रिपोर्टिंग करने निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि किसानों की धान बेचने में किसी तरह की परेशानी ना हो।

रेडी टू ईट और मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता से समझौता ना होकलेक्टर ने बैठक में कहा कि रेडी टू ईट की गुणवत्ता बरकरार रखने के लिए अधिकारी समय समय पर स्वयं जाकर गुणवत्ता जांचें। इसी तरह मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता जांचने के लिए औचक निरीक्षण करने और स्वयं बच्चों के साथ भोजन चखकर गुणवत्ता परखने निर्देशित किया। उन्होंने सीएमएचओ से जिले में दवाइयों और मेडिकल किट की उपलब्धता, कोरोना जांच, सहित विशेष टीकाकरण अभियान को जानकारी ली। बच्चों के स्वास्थ्य और सुरक्षा लिए विशेष निर्देशित करते हुए उन्होंने निरंतर मेडिकल जांच, हाइजीन की जानकारी देने के संबंध में निर्देश दिए।

छात्र छात्राओं की पढ़ाई और सुरक्षा पर कलेक्टर के विशेष निर्देशसाथ ही कलेक्टर ने बालिकाओं की सुरक्षा के लिए विशेष निर्देश देते हुए कहा कि कन्या छात्रावासों, आश्रमों और कस्तूरबा आवासीय विद्यालयों में केवल महिला अधीक्षिका और महिला गार्ड रहेंगी। इसके अलावा किसी भी बाहरी व्यक्ति को अनुमति नहीं होगी। अधिकारियों द्वारा निरीक्षण के दौरान भी महिला अधिकारी या कर्मचारी के साथ ही निरीक्षण किया जायेगा। उन्होंने सखी सेंटर के महिला प्रशिक्षकों के माध्यम से गुड टच और बैड टच जैसी जानकारी भी बच्चियों को जरूर देने कहा।
उन्होंने बैठक में आगामी बोर्ड परीक्षाओं में बच्चों की तैयारी को लेकर शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने शीघ्र ही प्राचार्यों के साथ बैठक आयोजित करने के निर्देश दिए।

इसे भी पढ़ें:  JOB 2024: ये राज्य सरकार डेढ़ साल में 10 लाख लोगों को देगी नौकरी........... मुख्यमंत्री ने किया बड़ा ऐलान

आवास, मनरेगा, श्रम, पशु चिकित्सा पर अधिकारियों से जिले की स्थिति की ली जानकारी

कलेक्टर ने बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत स्वीकृत आवासों की प्रगति, मनरेगा के तहत पंजीकृत श्रमिकों और स्वीकृत कार्यों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा श्रमिकों को कार्य मिलना सुनिश्चित करें। इसी तरह उन्होंने श्रम अधिकारी से जिले में बाल श्रमिकों के मामलों की जानकारी ली और फैक्ट्री, मिलों, ईंट भट्टों में बाल श्रमिकों से काम कराए जाने के औचक निरीक्षण करने और कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने पशु चिकित्सा विभाग से मवेशियों के टीकाकरण की जानकारी ली।

आबकारी और माइनिंग विभाग को भी सूचना तंत्र को मजबूत कर कार्रवाई करने के निर्देश

कलेक्टर ने कहा कि लगातार अवैध नशीले पदार्थों के परिवहन एवं भंडारण पर नजर बनाए रखें और प्रकरण मिलने पर आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होंने माइनिंग अधिकारी को भी अवैध उत्खनन और परिवहन को रोकने नियमानुसार कार्रवाई करने निर्देशित किया। बैठक में नगर निगम आयुक्त श्री अभिषेक कुमार, सीईओ जिला पंचायत श्री नूतन कंवर, अपर कलेक्टर श्री टेकचंद अग्रवाल और एएल ध्रुव, समस्त एसडीएम एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!