TRAVEL: अगर आपके पासपोर्ट पर नाम के साथ नहीं लिखा है “सरनेम” तो नहीं कर सकेंगे इस देश की यात्रा

दोस्तों के साथ इस समाचार को शेयर करें:

यदि आप या आपका कोई परिचित संयुक्त अरब अमीरात में रहता है या वहां की यात्रा का प्लान कर रहा है तो वहां की यात्रा नियमों में हुए हालिया बदलाव को जानना जरूरी है। नहीं तो यात्रा के दौरान परेशानी बढ़ सकती है। दरअसल संयुक्त अरब अमीरात प्रशासन ने सिंगल नाम वालों की इंट्री पर रोक लगा दी है। यदि आप यूएई जाना चाह रहे हैं तो आपके पासपोर्ट पर आपके नाम के साथ-साथ सरनेम का होना जरूरी है।

यदि आपके पासपोर्ट पर सरनेम नहीं होगा तो आप यूएई नहीं जा सकेंगे। संयुक्त अरब अमीरात प्रशासन ने अपने यात्रा दिशा-निर्देशों में एक नया बदलाव करने की घोषणा की है। इसमें कहा गया है कि जिन यात्रियों का उनके पासपोर्ट पर सिंगल नाम लिखा है, और वह पर्यटक या किसी अन्य तरह के वीजा का वीजा लेने की योजना बना रहे हैं, उन्हें यूएई में यात्रा करने या यहां से कहीं और यात्रा करने की अनुमति नहीं है।

यूएई प्रशासन ने यात्रा नियमों में क्या किया है बदलाव

यूएई की यात्रा करने वाले यात्रियों के पहले और अंतिम नाम दोनों को स्पष्ट रूप से घोषित करने की आवश्यकता है। यूएई की यात्रा नियमों में यह बदलाव 21 नवंबर से लागू हो गया है। बयान में कहा गया है, “यूएई अधिकारियों के निर्देशों के अनुसार, 21 नवंबर 2022 से, पर्यटक, यात्रा या किसी अन्य प्रकार के वीजा पर यात्रा करने वाले यात्रियों के पासपोर्ट पर एक ही नाम वाले यात्रियों को यूएई से आने/जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।”

इसे भी पढ़ें:  KASHMIRI PANDIT EXODUS: कश्मीरी पंडितों के पलायन को लेकर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने दिया बड़ा बयान. . . . जानिए उन्होंने क्या कहा

ट्रेड पार्टनर इंडिगो ने बयान जारी कर दी जानकारी

यूएई के यात्रा नियमों में हुए बदलाव की जानकारी ट्रेड पार्टनर इंडिगो ने भी एक बयान जारी कर दी है। इंडिगो के बयान के अनुसार, संयुक्त अरब अमीरात के अधिकारियों ने यह भी कहा है कि हालांकि, पासपोर्ट पर एक ही नाम वाले और निवास परमिट या स्थायी वीजा रखने वाले यात्रियों को यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी, बशर्ते कि वही नाम “फर्स्ट नेम” और “सरनेम” कॉलम में अपडेट किया गया हो।

इंडिगो की वेबसाइट से प्राप्त करें अधिक जानकारी

इंडिगो ने बताया कि पासपोर्ट पर एक ही नाम वाले यात्रियों और निवास परमिट या रोजगार वीजा वाले लोगों को यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी, बशर्ते कि “फर्स्ट नेम” और “सरनेम” कॉलम में वही नाम अपडेट किया गया हो।” एयरलाइन ने लोगों से अधिक जानकारी के लिए अपने अकाउंट मैनेजर से संपर्क करने या उनकी वेबसाइट goindigo.com पर जाने के लिए भी कहा है।

मालूम हो कि खाड़ी देशों में यूएई नौकरी के साथ-साथ टूरिज्म के लिए भी भारतीयों का पसंदीदा स्थल है। ऐसे में इस बदलाव का असर भारत के कई लोगों पर पड़ेगा।

अम्बिकापुरसिटी.कॉम: हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप को ज्वाइन करें | हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्वाइन करें | ट्विटर पर हमें फॉलो करें | हमारे फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करें | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें |

इसे भी पढ़ें