IND vs AUS: भारत ने T20 क्रिकेट में रचा इतिहास………..हासिल किया गया सबसे बड़ा लक्ष्य

भारतीय क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम को गुरुवार रात विशाखापट्टनम में खेले गए टी-20 सीरीज के पहले मैच में 2 विकेट से हरा दिया।इस जीत के साथ ही भारतीय टीम ने 5 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। यह टी-20 अंतरराष्ट्रीय में भारत द्वारा हासिल किया गया सबसे बड़ा लक्ष्य है।सीरीज का दूसरा मुकाबला रविवार (26 नवंबर) को तिरुवनंतपुरम में खेला जाएगा।आइए मैच में बने रिकॉर्ड्स और आंकड़ों पर नजर डालते हैं।

मैच का लेखा-जोखा 

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में 3 विकेट खोकर 208 रन बनाए। टीम की ओर से जोश इंग्लिश (110) ने सबसे ज्यादा रन बनाए।लक्ष्य का पीछा करने मैदान में उतरी भारतीय टीम ने 20वें ओवर में 8 विकेट खोकर जीत हासिल कर ली।टीम की ओर से कप्तान सूर्यकुमार यादव ने सर्वाधिक 80 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया की ओर से तनवीर संघा 2 विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रहे।

भारत ने हासिल किया सबसे बड़ा लक्ष्य

यह टी-20 क्रिकेट में भारत द्वारा हासिल किया गया सबसे बड़ा लक्ष्य बन गया है।इससे पहले भारत ने साल 2019 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 209/4 रन बनाकर लक्ष्य हासिल किया था। उसने 2009 में श्रीलंका के खिलाफ 207 के लक्ष्य का पीछा करते हुए 211/4 रन बनाए थे।इसी तरह भारत टी-20 में रिकॉर्ड 5 बार 200+ का लक्ष्य हासिल करने वाली टीम बन गई। दूसरे नंबर पर दक्षिण अफ्रीका (4) और तीसरे पर पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया (3-3) हैं।

भारत ने ऐसे किया लक्ष्य का पीछा 

लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत की शुरुआत बेहद खराब रही और तीसरे ओवर तक ही टीम ने दोनों सलामी बल्लेबाजों ने विकेट गंवा दिए।रुतुराज गायकवाड़ बिना खाता खोले और यशस्वी जायसवाल 21 रन बनाकर आउट हो गए।इसके बाद तीसरे विकेट के लिए सूर्यकुमार और ईशान किशन ने 60 गेंदों में 112 रन जोड़ते हुए कुछ उम्मीद बंधवाई। 5वें विकेट के लिए रिंकू सिंह (22*) ने सूर्यकुमार के साथ मिलकर 40 रन की साझेदारी निभाई।

इसे भी पढ़ें:  SGGU AMBIKAPUR: संत गहिरा गुरू विश्वविद्यालय का पूरक परीक्षा का परीक्षा फार्म भरने हेतु तिथि में वृद्धि की जारी हुई संशोधित अधिसूचना………… जानिए कहाँ होगी परीक्षा.........और देखिये परीक्षा का टाइम टेबल

कप्तान सूर्यकुमार ने खेली साहसिक पारी 

सूर्यकुमार ने कप्तान के रूप में इस मुकाबले में अपने अनुभव का पूरा इस्तेमाल करते हुए एक यादगार पारी खेलते हुए टीम को जीत दिलाई।उन्होंने 190.48 की दमदार स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए 42 गेंदों में 80 रन बनाए। इस पारी में उनके 9 चौके और 4 छक्के जमाए।यह उनके अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट करियर का 16वां अर्धशतक रहा। वह इस फॉर्मेट में अब तक 3 शतक भी जमा चुके हैं।

ईशान किशन ने जमाया 5वां टी-20 अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक 

गायकवाड़ के जल्दी आउट होने के बाद ईशान किशन को पहले ही ओवर में बल्लेबाजी के लिए आना पड़ा।उन्होंने जिम्मेदारीपूर्वक बल्लेबाजी करते हुए शानदार पारी खेली।उन्होंने 148.72 की स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए 39 गेंदों में 58 रन बनाए। अपनी पारी के दौरान उन्होंने 2 चौके और 5 छक्के भी जमाए।ईशान के टी-20 टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर का यह 5वां अर्धशतक रहा। इस प्रारूप में उनका उच्चतम स्कोर 89 रन का है।

इंग्लिश ने जमाया पहला टी-20 अंतरराष्ट्रीय शतक 

ऑस्ट्रेलिया की पारी के सबसे बड़े आकर्षण इंग्लिश ही रहे। उन्होंने अपनी तूफानी बल्लेबाजी से इस पारी को यादगार बना दिया।गुरुवार को इंग्लिश ने टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर का पहला शतक जमाया। इस प्रारूप में यह उनकी सर्वश्रेष्ठ पारी भी रही।उन्होंने 220.00 की शानदार स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए 50 गेंदों में ही 110 रन बना डाले। इस पारी में उन्होंने 11 चौके और 8 आसमानी छक्के भी जमाए।

इंग्लिश ने जमाया ऑस्ट्रेलिया के लिए संयुक्त रूप से सबसे तेज टी-20 शतक 

इंग्लिश ने अपनी तूफानी बल्लेबाजी से इस मैच में शानदार रिकॉर्ड अपने नाम किया।वह इस प्रारूप में ऑस्ट्रेलिया की ओर से संयुक्त रूप से सबसे तेज शतक (47 गेंद) जमाने वाले बल्लेबाज बन गए।उनसे पहले पूर्व कप्तान आरोन फिंच भी इंग्लैंड क्रिकेट टीम के खिलाफ इतनी ही गेंदों में शतक जमा चुके हैं।कंगारू टीम के लिए दूसरा सबसे तेज टी-20 शतक जमाने का रिकॉर्ड ग्लेन मैक्सवेल (49 गेंद बनाम श्रीलंका) के नाम दर्ज है।

इसे भी पढ़ें:  AMBIKAPUR: शहर के जेवी बैडमिंटन अकादमी के खिलाडियों ने 22वीं राज्य स्तरीय बैडमिण्टन प्रतियोगिता में लिया हिस्सा...............ख़िताब हासिल कर किया शानदार प्रदर्शन

भारत के खिलाफ टी-20 शतक जड़ने वाले दुनिया के 7वें बल्लेबाज 

इंग्लिश ने इस पारी की बदौलत अपना नाम एक विशिष्ट खिलाड़ियों की श्रेणी में भी दर्ज करवा लिया है।वह भारत के खिलाफ टी-20 अंतरराष्ट्रीय में शतक जमाने वाले दुनिया के 7वें बल्लेबाज बन गए हैं। ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों में उनका नंबर दूसरा है।उनसे पहले मैक्सवेल (2019) भी भारत के खिलाफ टी-20 शतक जड़ चुके हैं। भारत के खिलाफ अब तक शेन वॉटसन, कॉलिन मुनरो, मैक्सवेल, राइली रूसो, डेविड मिलर और एविन लेविस (2 बार) ने शतक जमाए हैं।

भारत के खिलाफ दूसरा सबसे तेज शतक 

इंग्लिश भारत के खिलाफ टी-20 में दूसरा सबसे तेज शतक जमाने वाले बल्लेबाज बने। इससे पहले डेविड मिलर ने साल 2022 में 46 गेंदों में सबसे तेज शतक जड़ा था। तीसरे नंबर पर लुईस और रूसो (48-48 गेंद) का कब्जा है।

पहली बार पारी की शुरुआत करने उतरे स्मिथ, जमाया 5वां टी-20 अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक 

ऑस्ट्रेलिया के अनुभवी बल्लेबाज स्टीव स्मिथ ने भी इस मुकाबले में अपनी बल्लेबाजी से गहरी छाप छोड़ी।उन्होंने 126.83 की स्ट्राइक रेट से 41 गेंदों 52 रन बनाए। अपनी इस पारी में उन्होंने 8 चौके भी लगाए।यह उनके टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर का 5वां अर्धशतक रहा। इस प्रारूप में उनका उच्चतम स्कोर 91 रन का रहा है।विशेष रूप से स्मिथ इस प्रारूप में पहली बार पारी की शुरुआत करने उतरे थे।

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!