PANCHANG: 27 नवंबर 2023 का पंचांग………आज कार्तिक पूर्णिमा तिथि पर ‘शिव’ योग का हो रहा है निर्माण……….पंचांग पढ़कर करें दिन की शुरुआत

पंचांग का दर्शन, अध्ययन व मनन आवश्यक है। शुभ व अशुभ समय का ज्ञान भी इसी से होता है। अभिजीत मुहूर्त का समय सबसे बेहतर होता है। इस शुभ समय में कोई भी कार्य प्रारंभ कर सकते हैं।

आज कार्तिक माह शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा है व कृतिका नक्षत्र है। आज सोमवार है। आज राहुकाल 07:41 से 09:02 तक हैं। इस समय कोई भी शुभ कार्य करने से परहेज करें।

आज का पंचांग (अंबिकापुर)

दिनांक27 नवंबर 2023
दिवससोमवार
माहकार्तिक
पक्षशुक्ल पक्ष
तिथिपूर्णिमा
सूर्योदय06:19:46
सूर्यास्त17:09:30
करणबालव
नक्षत्रकृतिका
सूर्य राशिवृश्चिक
चन्द्र राशिवृषभ

मुहूर्त (अंबिकापुर)

शुभ मुहूर्त- अभिजीत 11:23 से 12:06 तक
राहुकाल 07:41 से 09:02 तक

सनातन धर्म में पूर्णिमा तिथि का विशेष महत्व है। इस दिन गंगा स्नान, पूजा, जप-तप और दान करने का विधान है। शास्त्रों में निहित है कि पूर्णिमा तिथि पर गंगा स्नान करने से सभी पाप धूल जाते हैं। इस दिन गंगा स्नान के पश्चात भगवान विष्णु की पूजा करने से आरोग्य जीवन का वरदान प्राप्त होता है। साथ ही घर में सुख और समृद्धि आती है। अतः पूर्णिमा तिथि पर श्रद्धालु गंगा समेत अन्य पवित्र नदियों में आस्था की डुबकी लगाते हैं। अगर आप भी भगवान विष्णु की कृपा पाना चाहते हैं, तो कार्तिक पूर्णिमा के दिन इस शुभ मुहूर्त में भगवान विष्णु की पूजा करें।

शुभ मुहूर्त

कार्तिक पूर्णिमा की तिथि 27 नवंबर को 02 बजकर 45 मिनट तक है। साधक इस समय से पूर्व स्नान-ध्यान, पूजा, जप-तप और दान कर सकते हैं। सनातन धर्म में सूर्योदय के पश्चात तिथि की गणना होती है। अतः 27 नवंबर को कार्तिक पूर्णिमा है।

इसे भी पढ़ें:  RASHIFAL: 27 नवंबर 2023 का राशिफल.........जाने कैसा रहेगा आज का दिन.......... और किस राशि की चमकेगी किस्मत

शिव योग

ज्योतिषियों की मानें तो कार्तिक पूर्णिमा पर शिव योग का निर्माण हो रहा है। कार्तिक पूर्णिमा पर शिव योग का निर्माण देर रात 11 बजकर 39 मिनट तक है। इस योग में गंगा स्नान करने और भगवान विष्णु की पूजा-उपासना करने से साधक को मृत्यु लोक में स्वर्ग लोक समान सुखों की प्राप्ति होती है। साथ ही जीवन में व्याप्त सभी दुख और संताप दूर हो जाते हैं।

'इस लेख में निहित जानकारी को विभिन्न माध्यमों से संग्रहित कर आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।' 

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!