July 18, 2024 2:04 am

PANCHANG: 12 अप्रैल 2024 का पंचांग- आज चैत्र नवरात्र का चौथे दिन की जा रही जगत जननी आदिशक्ति मां कूष्मांडा की पूजा-उपासना, पंचांग पढ़कर करें दिन की शुरुआत

हर वर्ष चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से लेकर नवमी तिथि तक चैत्र नवरात्र का त्योहार मनाया जाता है। इसी प्रकार चैत्र नवरात्र के चौथे दिन यानी आज 12 अप्रैल को जगत जननी आदिशक्ति मां दुर्गा के चतुर्थ स्वरूप मां कूष्मांडा की पूजा-उपासना की जा रही है। साथ ही उनके निमित्त व्रत उपवास रखा जा रहा है। ज्योतिषियों की मानें तो चैत्र नवरात्र के चौथे दिन सौभाग्य योग का निर्माण हो रहा है। इसके अलावा, कई अन्य शुभ योग भी बन रहे हैं। आइए जानते हैं आज का पंचांग-

आज का पंचांग

शुभ मुहूर्त

चैत्र नवरात्र की चतुर्थी तिथि 11 अप्रैल को दोपहर 03 बजकर 04 मिनट से शुरू होगी और 12 अप्रैल को दोपहर 01 बजकर 11 मिनट पर समाप्त होगी। इसके बाद पंचमी तिथि शुरू होगी। साधक सुविधानुसार दोपहर तक मां कूष्मांडा की पूजा एवं साधना कर सकते हैं। हालांकि, अभिजीत मुहूर्त में पूजा करना अति श्रेष्ठकर होगा। इस दिन अभिजीत मुहूर्त 11 बजकर 56 मिनट से लेकर दोपहर 12 बजकर 47 मिनट तक है।

पंचांग

ब्रह्म मुहूर्त – सुबह 04 बजकर 29 मिनट से 05 बजकर 14 मिनट तक

विजय मुहूर्त – दोपहर 02 बजकर 30 मिनट से 03 बजकर 21 मिनट तक

गोधूलि मुहूर्त – शाम 06 बजकर 44 मिनट से 07 बजकर 07 मिनट तक

निशिता मुहूर्त – रात्रि 11 बजकर 59 मिनट से 12 बजकर 44 मिनट तक

अशुभ समय

राहु काल – सुबह 10 बजकर 46 मिनट से 12 बजकर 22 मिनट तक

गुलिक काल – सुबह 07 बजकर 34 मिनट से 09 बजकर 10 मिनट तक

इसे भी पढ़ें:  IPL 2024, LSG vs DC: इंडियन प्रीमियर लीग में आज दिल्ली कैपिटल्स- लखनऊ सुपरजाइंट्स के बीच होगा रोमांचक मुकाबला........ जानें सारे डिटेल्स

दिशा शूल – पश्चिम

ताराबल

अश्विनी, कृत्तिका, रोहिणी, मृगशिरा, आर्द्रा, पुष्य, मघा, उत्तरा फाल्गुनी, हस्त, चित्रा, स्वाति, अनुराधा, मूल, उत्तराषाढ़ा, श्रवण, धनिष्ठा, शतभिषा, उत्तराभाद्रपद

चन्द्रबल

मेष, मिथुन, कर्क, तुला, वृश्चिक, कुम्भ

चन्द्र राशि – मेष

इस लेख में निहित किसी भी जानकारी की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।’

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!