NATIONAL MATHEMATICS DAY: आपको भी रामानुजन की तरह संख्याओं से है प्यार!…………..तो 12वीं के बाद इन क्षेत्रों में  बना सकते हैं अपना कैरियर

महान गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन की याद में हर साल 22 दिसंबर को राष्ट्रीय गणित दिवस मनाया जाता है।इस दिन रामानुजन द्वारा गणित के क्षेत्र में दिए गए अमूल्य योगदान को याद किया जाता है।गणित एक ऐसा विषय है, जिससे अधिकांश बच्चे डरते हैं, लेकिन रामानुजन ने छोटी उम्र में ही गणित में महारात हासिल कर ली थी।अगर रामानुजन की तरह आपको भी संख्याओं से प्यार है तो 12वीं के बाद इन क्षेत्रों में करियर बना सकते हैं।

गणित में कौनसी डिग्री कर सकते हैं?

12वीं के बाद गणित में डिग्री कोर्स के कई विकल्प उपलब्ध हैं। उम्मीदवार अकाउंटिंग और फाइनेंस, बीमांकिक विज्ञान, इंजीनियरिंग, अर्थशास्त्र, कंप्यूटर और आईटी जैसे क्षेत्रों में BSc, BTech, Msc, MTech, PhD जैसी डिग्री कर सकते हैं। कुछ क्षेत्रों में डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं।

गणित में डिग्री हासिल करने के क्या फायदे हैं?

गणित विषय में डिग्री करियर विकल्पों की विस्तृत श्रृंखला तैयार करती है। गणित में डिग्री करने से समस्या समाधान कौशल विकसित होता है।डेटा-संचालित दुनिया में मात्रात्मक जानकारियों को समझना महत्वपूर्ण है और गणित इसमें मदद करता है।गणित आलोचनात्मक सोच को बढ़ावा देता है, इसमें जानकारी का आंकलन करना, धारणाओं पर सवाल उठाना शामिल है।गणित पढ़ने वाले व्यक्ति आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग, साइबर सुरक्षा और प्रौद्योगिकी को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

गणित में है करियर विकल्पों की भरमार

गणित में डिग्री करने के बाद उम्मीदवार डेटा वैज्ञानिक के तौर पर करियर बना सकते हैं। ये भारत में सबसे तेजी से बढ़ते क्षेत्रों में से एक है।इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए उम्मीदवार 12वीं के बाद डेटा विज्ञान में स्नातक डिग्री हासिल कर सकते हैं।उम्मीदवार बिजनेस इंटेलिजेंस एनालिसिस के रुप में काम कर सकते हैं। इनका काम डेटा का विश्लेषण करके बाजार और व्यापारिक ट्रेंड्स का पता लगाने में मदद करना होता है।

इसे भी पढ़ें:  SGGU ANNUAL EXAM 2024: संत गहिरा गुरू विश्वविद्यालय ने वर्ष 2024 की वार्षिक परीक्षा के लिए आज से फॉर्म भरना हुआ शुरू …………फॉर्म भरने से पहले रखें यह सावधानी

चार्टर्ड अकाउंटेंट

गणित में रुचि रखने वाले छात्रों के लिए चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) भी अच्छा करियर विकल्प है।CA का पूरा काम अकाउंटिंग, टैक्सेशन और ऑडिटिंग से जुड़ा होता है। द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) की तरफ से हर साल छात्रों के लिए परीक्षा आयोजित की जाती है।अलग-अलग स्तर की परीक्षाएं पास करने के बाद आप CA बन सकते हैं और दुनियाभर की शीर्ष कंपनियों के साथ काम कर सकते हैं।

बैंकिंग क्षेत्र

गणित के छात्रों के लिए बैंकिंग क्षेत्र भी एक बेहतरीन करियर विकल्प है।बैंकों में अकाउंटेंट, कैश हैंडलिंग, लोन प्रोसेसिंग अधिकारी, रिकवरी अधिकारी जैसे कई पद होते हैं और इन सभी के लिए अच्छा गणितीय कौशल होना आवश्यक है।इन पदों पर वेतन भी अच्छा मिलता है। बैंकिंग क्षेत्र में करियर बनाने के लिए उम्मीदवार बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान (IBPS), भारतीय स्टेट बैंक (SBI), भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा संचालित की जाने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सकते हैं।

अर्थशास्त्री 

अर्थशास्त्री भविष्य की सामाजिक और वित्तीय घटनाओं का विश्लेषण करते हैं। ये आर्थिक मॉडल बनाने और डेटा की व्याख्या करते हैं।इस काम के लिए उम्मीदवारों के पास गणित और सांख्यिकी का अच्छा कौशल होना जरूरी है।ऐसे में गणित में रुचि रखने वाले उम्मीदवार अर्थशास्त्री के रूप में करियर बना सकते हैं। इसके लिए उम्मीदवार 12वीं के बाद अर्थशास्त्र में स्नातक की डिग्री हासिल कर सकते हैं।इसके बाद स्नातकोत्तर और PhD के विकल्प भी उपलब्ध हैं।

इन क्षेत्रों में भी बना सकते हैं करियर

इसके अलावा छात्र गणित शिक्षक, वित्तीय नियोजक, क्रय प्रबंधक, सांख्यिकीविद, कंप्यूटर सिस्टम विश्लेषक, सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में भी करियर बना सकते हैं। एविएशन का क्षेत्र भी बेहतरीन करियर विकल्प है। इसमें आगे बढ़ने के लिए भी गणित की बेहतर समझ होना आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें:  INDIA COVID-19: भारत में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार............... सक्रिय मामले बढ़कर 2997 हुए...........इन राज्यों में पहुंचा संक्रमण

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!