UGC GUIDELINE: विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों और संस्थाओं के प्राचार्यों को लिखा पत्र…………… छात्रों को नशे के खिलाफ शपथ दिलाने के लिए कहा

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों और संस्थाओं के प्राचार्यों को पत्र लिखकर छात्रों को नशे के खिलाफ शपथ दिलाने के लिए कहा है। हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, UGC ने यह निर्देश सामाजिक न्याय मंत्रालय के ‘नशा मुक्त भारत अभियान’ के तहत दिया है।मंत्रालय का यह अभियान विश्वविद्यालय परिसरों और कॉलेजों के भीतर नशीली दवाओं के जाल और मादक पदार्थों के सेवन को रोकने पर केंद्रित है।

रोकथाम के लिए संस्थान कर सकता है कार्रवाई

UGC के सचिव मनीष जोशी की ओर से जारी पत्र में लिखा है कि छात्र और युवा मादक पदार्थों के सेवन के खतरे के प्रति संवेदनशील हैं, जिससे वे इस अभियान के प्राथमिक हितधारक हैं।उन्होंने लिखा है कि संस्थान मादक पदार्थ के इस्तेमाल पर रोकथाम के लिए नियमित रूप से हस्तक्षेप कर सकता है।इसके साथ ही परिसर और अन्य स्थानों को संवेदनशील बनाने के लिए संस्थागत स्तर पर कार्रवाई कर सकते हैं।

रैगिंग के खिलाफ क्लब बनाने की सलाह

UGC ने विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को मादक पदार्थ मुक्त वातावरण बनाने के साथ रैगिंग की रोकथाम और सुरक्षा उपायों का पालन करने से संबंधित सामान्य क्लब बनाने की भी सलाह दी।छात्रों से उनके शैक्षणिक कार्यकाल के दौरान जिम्मेदार व्यवहार को लेकर प्रतिबद्धता मांगी गई है। पत्र के साथ एक मागदर्शक प्रोफार्मा दिया जाएगा, जिस पर सभी छात्रों को हस्ताक्षर करने होंगे।जागरूकता सामग्री फैलाने के लिए गतिविधियों की सूची के साथ एक लिंक भी भेजा जाएगा।

इसे भी पढ़ें:  CHHATTISGARH: छत्तीसगढ़ में कई जिलों के कलेक्टर समेत विभागों के सचिव बदले.................श्री भोसकर विलास संदीपान बने सरगुजा कलेक्टर

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!