Shraddha Murder Case: लिव-इन पार्टनर की हत्या कर किए उसके 35 टुकड़े. . . . रोज रात 2 बजे महरौली के जंगलों में बॉडी पार्ट्स फेंकता रहा आफताब. . . . दिल्ली पुलिस ने किये और भी कई सनसनीखेज खुलासे

दोस्तों के साथ इस समाचार को शेयर करें:

दिल्ली पुलिस ने महरौली थाना इलाके में करीब छह महीने पहले हुई एक हत्या के मामले को सुलझाने का दावा किया है. उसने इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए व्यक्ति का नाम आफताब है. उस पर श्रद्धा नाम की एक युवती की हत्या का आरोप है. दोनों लिव इन में रहते थे. पुलिस का कहना है कि आफताब ने श्रद्धा के शव के करीब 35 टुकड़े किए थे. उसने इन टुकड़ों को फ्रिज में रखा और 18 दिन तक तड़के उठकर वह उनको ठिकाने लगाते रहा. 

बेटी की तलाश में दिल्ली आए पिता

आफताब और श्रद्धा की की दोस्ती मुंबई में एक कॉल सेंटर में काम करते के दौरान हुई थी. दोनों की यह दोस्ती धीरे-धीरे प्यार में तब्दील हो गई. इसके बाद परिवार का विरोध करने पर दोनों भागकर दिल्ली आ गए. श्रद्धा के परिवार वाले सोशल मीडिया के जरिए उसकी जानकारी लेते रहते थे. लेकिन जब सोशल मीडिया पर अपडेट आना बंद हो गया तब श्रद्धा के परिवार वालों को शक हुआ. इसके बाद लड़की के पिता दिल्ली पहुंचे. बेटी के नही मिलने पर दिल्ली पुलिस को शिकायत की. 

श्रद्धा के पिता ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी मुंबई के कॉल सेंटर में काम करती थी. वहां उसकी मुलाकात आफताब नाम के एक शख्स से हुई. दोनों की दोस्ती काफी नजदीकी में तब्दील हो गई. दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे लेकिन परिवार वाले इस बात से खुश नहीं थे. इसके चलते उन्होंने इसका विरोध किया. इसी विरोध के चलते उनकी बेटी और आफताब मुंबई छोड़कर दिल्ली आ गए और यहां पर छतरपुर इलाके में रहने लगे. 

इसे भी पढ़ें:  COVID-10 VACCINE: 84 साल के बुजुर्ग ने 11 बार लगवाई कोरोना वैक्सीन..... पकड़े जाने पर कहा- यह अद्भुत है..... अधिकारीयों के उड़े होश

दिल्ली पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा

दिल्ली पुलिस टेक्निकल सर्विलांस की मदद से आफताब की तलाश में जुट गई. पुलिस ने एक गुप्त सूचना के आधार पर आफताब को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में आफताब ने बताया कि श्रद्धा उसपर लगातार शादी का दबाव बना रही थी. इसको लेकर उनके बीच में अक्सर झगड़ा होना शुरू हो गया. इसके बाद उसने मई में बेरहमी से उसकी हत्या कर दी. आफताब ने श्रद्धा के शव के टुकड़े कर महरौली के जंगलों में फेंक दिया. 

पुलिस के मुताबिक आरोपी आफताब ने श्रद्धा के शव के करीब 35 टुकड़े किए थे. वह एक फ्रिज खरीद कर लाया और शव के टुकड़ों को उसमें रखा. आफताब करीब 18 दिन तक लाश के टुकड़ों को ठिकाने लगाता रहा. वह उन टुकड़ों को महरौली के जंगलों में फेंकता था. इसके लिए वह देर रात ही घर से निकलता था. 

अम्बिकापुरसिटी.कॉम: हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप को ज्वाइन करें | हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्वाइन करें | ट्विटर पर हमें फॉलो करें | हमारे फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करें | हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें |

इसे भी पढ़ें