Olympics: भारत में ओलंपिक की मेजबानी को लेकर मिला फ्रांस का साथ, दिल्ली में राष्ट्रपति मैक्रों ने किया समर्थन का ऐलान

भारत की राजधानी दिल्ली में चल रहे अपने तीन दिवसीय दौरे के दौरान फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने एक बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने कहा है कि फ्रांस भारत के उस इरादे का समर्थन करेगा, जिसके तहत वह भविष्य में भारत में ओलंपिक खेलों का आयोजन करना चाहता है. राष्ट्रपति मैक्रों ने यह बात शुक्रवार को राष्ट्रपति भवन में कही.

मैक्रों ने किया भारत की खेल प्रतिभाओं की सराहना

राष्ट्रपति मैक्रों ने भारत की खेल प्रतिभाओं की भी सराहना की और कहा कि भारत के पास ओलंपिक खेलों की मेजबानी करने की पूरी क्षमता है. उन्होंने कहा, “मुझे इस बात की खुशी है कि भारत ओलंपिक खेलों की मेजबानी करने की इच्छा रखता है. फ्रांस इस प्रयास में भारत का पूरा समर्थन करेगा. भारत के पास बेहतरीन खेल प्रतिभाएं हैं और ओलंपिक खेलों की मेजबानी के लिए जरूरी बुनियादी ढांचा भी तैयार किया जा सकता है.”

भारत पहले ही कर चुका है ओलंपिक खेलों की मेजबानी का प्रयास

बता दें कि भारत पहले भी दो बार ओलंपिक खेलों की मेजबानी के लिए प्रयास कर चुका है. 2014 के एशियाई खेलों के सफल आयोजन के बाद भारत ने 2024 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेलों की मेजबानी के लिए भी बोली लगाई थी, लेकिन वह सफल नहीं रही थी. हालांकि, भारत सरकार का ओलंपिक खेलों की मेजबानी का सपना अभी भी पूरा नहीं हुआ है और वह लगातार इस दिशा में प्रयास कर रहा है.

इसे भी पढ़ें:  Cricket: 20 वर्षीय गेंदबाज को क्रिकेट के मैदान पर पड़ा दिल का दौरा, मौत

मैक्रों के बयान से भारत को मिलेगी हौसला बढ़ाने वाली ताकत

फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों के इस बयान से भारत को ओलंपिक खेलों की मेजबानी के लिए हौसला बढ़ाने वाली ताकत मिलेगी. फ्रांस भारत का एक करीबी मित्र देश है और दोनों देशों के बीच कई क्षेत्रों में सहयोग चल रहा है. ऐसे में फ्रांस का समर्थन भारत के लिए काफी महत्वपूर्ण साबित होगा.

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!