LOK SABHA ELECTION BREAKING: लोकसभा चुनाव 2024 की तारीखों का ऐलान…….. 19 अप्रैल से 7 चरण में होगा मतदान, 4 जून को आएंगे नतीजे

चुनाव आयोग ने आज लोकसभा चुनाव 2024 की तारीखों का ऐलान कर दिया है. देश की 543 लोकसभा सीटों पर 19 अप्रैल से 1 जून 2024 तक 7 चरणों में चुनाव होंगे. वोटों की गिनती 23 मई 2024 को होगी. चुनाव की तारीखों के एलान के साथ ही देशभर में आचार संहिता लागू हो गई है.

लोकसभा चुनाव कार्यक्रम

  • 19 अप्रैल: पहले चरण का मतदान
  • 26 अप्रैल: दूसरे चरण का मतदान
  • 7 मई: तीसरे चरण का मतदान
  • 13 मई: चौथे चरण का मतदान
  • 20 मई: पांचवें चरण का मतदान
  • 25 मई: छठे चरण का मतदान
  • 1 जून: सातवें चरण का मतदान

नतीजे- 4 जून को लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएंगे

क्या है चुनाव की तैयारी

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि चुनाव के लिए हमारी टीम तैयार है. उन्होंने कहा कि चुनाव में 97 करोड़ वोटर्स मतदान करेंगे. 10.5 लाख पोलिंग स्टेशन होंगे, जबकि 55 लाख EVM का इस्तेमाल किया जाएगा. इसके लिए 1.5 करोड़ पोलिंग अधिकारी और सुरक्षा अधिकारी तैनात किए जाएंगे. उन्होंने कहा कि 1.82 करोड़ युवा वोटर्स हैं, जो कि इस बार मतदान करेंगे. उन्होंने कहा कि 18 से 29 साल के साढ़े 21 लाख वोटर हैं.

सीईसी राजीव कुमार ने कहा कि करीब 50 करोड़ पुरुष 47 करोड़ से ज्यादा महिलाएं मतदान करेंगे. 1.8 करोड़ पहली बार मतदाता, 88.40 लाख दिव्यांग, 19.01 लाख सैनिक सुरक्षा कर्मी, 48000 थर्ड जेंडर वोटर्स हैं.

85 वर्ष से अधिक उम्र के सभी वोटर या दिव्यांग वोटर के घर फॉर्म भिजवाएंगे, ताकि वो घर से वोट डाल सकें. बूथ पर वो आएंगे तो उनको आयोग वोलेंटियर सहयोग करेंगे.

इसे भी पढ़ें:  LOK SABHA ELECTION 2024: चुनाव आयोग की तारीखों के ऐलान के बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का दावा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा भारी बहुमत से बनाएगी सरकार

चुनाव आयोग की चेतावनी

सीईसी ने कहा कि चुनाव कराने को लेकर ECI के सामने 4 चुनौतियां हैं. बाहुबल का इस्तेमाल, धनबल, झूठी खबर और एमसीसी का उल्लंघन. उन्होंने कहा कि हम हिंसा मुक्त चुनाव करवाना चाहते हैं, लिहाजा इलेक्शन के दौरान कोई भी खून-खराबा बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

आपराधिक पृष्ठभूमि वाले उम्मीदवारों को समाचार पत्रों और अन्य मीडिया आउटलेट्स में तीन बार जानकारी प्रकाशित करनी होगी. राजनीतिक दल को यह बताना होगा कि उन्होंने आपराधिक पृष्ठभूमि वाले उम्मीदवार को टिकट क्यों दिया.

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!