WINDOW 10 OS: क्या आपके पीसी के रगो में दौड़ रहा है माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 10 ऑपरेटिंग सिस्टम?…… तो यह खबर है आपके लिए

माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 10 ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए सपोर्ट खत्म करने पर विचार कर रही है। इसका असर लगभग 2.4 करोड़ पर्सनल कंप्यूटर (PC) पर पड़ेगा और उन्हें फेंकने की नौबत आ सकती है। हालांकि, कई कंप्यूटर यह अपडेट बंद होने के बाद भी काम करते रह सकेंगे, लेकिन इनकी मांग कम हो जाएगी। केनेलिस रिसर्च के अनुसार, इन PC से करीब 48 करोड़ किलोग्राम ई-कचरा पैदा होगा, जो लगभग 2.30 लाख कारों के भार के बराबर होगा।

नया कंप्यूटर लेना पड़ेगा सस्ता

माइक्रोसॉफ्ट ने ऐलान किया है कि वह अक्टूबर, 2025 तक विंडोज 10 के लिए सिक्योरिटी अपडेट देती रहेगी। इसके बाद के 3 सालों के लिए वह एक तय सालाना फीस पर अपडेट देगी, लेकिन उसने अभी तक उस फीस का खुलासा नहीं किया है। केनेलिस का कहना है कि अगर पुराने ट्रेंड को देखें तो ग्राहकों के लिए सालाना फीस चुकाने की जगह नया कंप्यूटर लेना सस्ता पड़ेगा, जिसके कारण पुराने कंप्यूटर कबाड़ में चले जाएंगे।

AI से लैस होगा माइक्रोसॉफ्ट का अगला ऑपरेटिंग सिस्टम

माना जा रहा है कि माइक्रोसॉफ्ट का अगली जनरेशन का ऑपरेटिंग सिस्टम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) से लैस होगा। कंपनी के पुराने कंप्यूटर को अपडेट न देने के फैसले का असर पर्यावरण पर भी बुरा असर पड़ेगा, लेकिन इस बारे में माइक्रोसॉफ्ट ने कोई टिप्पणी नहीं की है। कंप्यूटरों में इस्तेमाल होने वाली हार्ड ड्राइव्स और डाटा स्टोरेज सर्वर को रिसाइकिल कर इलेक्ट्रिक वाहनों की मोटरें बनाने और नवीनीकरण ऊर्जा के उत्पादन में इस्तेमाल किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें:  CBI Recruitment 2024: 10वीं पास के लिए बैंक में 484 पदों पर हो रही है भर्ती............इस लिंक से अभी कर दें आवेदन

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!