CHHATTISGARH: विष्णुदेव साय छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री…………विधायक दल की बैठक में किया गया ऐलान

छत्तीसगढ़ का अगला मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय होंगे। विष्णुदेव साय कुनकुरी से विधायक हैं और प्रदेश के बड़े आदिवासी नेता हैं। भाजपा विधायक दल की बैठक में इनके नाम का ऐलान किया गया। राजनीति में विष्णुदेव साय साफ-सुथरी छवि और लंबी राजनीतिक पारी खेलने वाले बड़े आदिवासी चेहरा हैं। विष्णुदेव साय प्रदेश के चौथे मुख्यमंत्री होंगे।

विष्णुदेव साय का जन्म 21 फरवरी 1964 में जशपुर के ग्राम बगिया में स्व. रामप्रसाद साय और जसमनी देवी के घर हुआ था। पूर्व सीएम भूपेश बघेल से वे 3 साल छोटे हैं। किसान परिवार से आने वाले विष्णुदेव ने लंबा राजनीतिक सफर तय कर ऊंचा मुकाम हासिल किया। प्रदेश और देश की राजनीति में सक्रिय रहे। विष्णुदेव साय की प्रारंभिक शिक्षा कुनकुरी में ही हुई। इसके बाद उन्होंने वहीं से 12वीं तक की पढ़ाई की, लेकिन फिर उनका स्कूल छूट गया। पिता के साथ खेती-किसानी में हाथ बंटाने वाले साय ने 25 साल की उम्र में राजनीति में कदम रखा। उनके परिवार के अन्य लोग शुरू से ही जनसंघ से जुड़ रहे।

विष्णुदेव साय ने अपना राजनीतिक करियर गांव की राजनीति से शुरू किया। वह 1989-1990 में अविभाजित मध्य प्रदेश की तपकरा की ग्राम पंचायत बगिया से निर्विरोध सरपंच चुने गए। इसके बाद पहली बार भाजपा के टिकट पर 1990 में तपकरा सीट से विधायक बने। 8 साल विधायक रहने के बाद 2004 में रायगढ़ से सांसद चुने गए। लोकसभा का यह सफर 2014 तक जारी रहा। सांसद रहने के दौरान मोदी सरकार में इस्पात मंत्रालय में राज्यमंत्री बनाए गए। इस बीच 2011 और फिर 2020 में पार्टी ने उन्हें छत्तीसगढ़ भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया। 2022 में भाजपा की राष्ट्रीय कार्य समिति सदस्य बनाए गए।

इसे भी पढ़ें:  IND vs SA: भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला टी20 मुकाबला होगा आज…………..भारतीय टीम जीत से करना चाहेगी आगाज

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के रूप में भी 2 वर्ष से ज्यादा तक कार्य करने के बाद पार्टी ने उन्हें सरगुजा की जिम्मेदारी सौंप दी और सरगुजा में एक्टिव होने के लिए भेज दिया । सरगुजा में विष्णुदेव साय ने खूब मेहनत की और सरगुजा की 14 में से 14 सीट भारतीय जनता पार्टी के झोली में लाया, जिसका फायदा उन्हें मिला और पार्टी ने उन्हें अगले मुख्यमंत्री के रूप में चुना है ।

पूर्व मुख्यमंत्री ने दी बधाई

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!