CHHATTISGARH: मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने बाबा गुरू घासीदास जयंती पर दी शुभकामनाएं……… प्रदेश में आयोजित होने वाले कई कार्यक्रम में होंगे शामिल

मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय 18 दिसम्बर को बिलासपुर, लालपुर और मोतिमपुर में आयोजित बाबा गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय ने सतनाम पंथ के प्रवर्तक बाबा गुरू घासीदास जी की 18 दिसम्बर को जयंती के अवसर पर प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। श्री साय ने कहा है कि बाबा गुरू घासीदास जी ने अपने उपदेशों के माध्यम से दुनिया को सत्य, अहिंसा और सामाजिक सद्भावना का मार्ग दिखाया। उन्होंने ’मनखे-मनखे एक समान’ के प्रेरक वाक्य के साथ यह संदेश दिया कि सभी मनुष्य एक समान है। उन्होंने शिक्षा को बढ़ावा देने के साथ सामाजिक समरसता और सबके उत्थान की दिशा में काम किया। श्री साय ने कहा कि बाबा गुरू घासीदास जी ने लोगों को मानवीय गुणों के विकास का रास्ता दिखाया और नैतिक मूल्यों की पुनर्स्थापना की। उनका जीवन दर्शन और विचार मूल्य पूरी मानव जाति के लिए कल्याणकारी है और अनुकरणीय है।

निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय 18 दिसम्बर को प्रातः 11.20 बजे राज्य अतिथि गृह पहुना शंकर नगर रायपुर से प्रस्थान कर पुलिस ग्राउण्ड हेलीपेड पहुंचेंगे और वहां से 11.30 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा प्रस्थान कर दोपहर 12 बजे गुरू घासीदास विश्वविद्यालय परिसर बिलासपुर पहुंचकर वहां आयोजित गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में शामिल होंगे।


मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय दोपहर 1.05 बजे गुरू घासीदास विश्वविद्यालय बिलासपुर से हेलीकॉप्टर द्वारा मुंगेली जिले के विकासखण्ड लोरमी के ग्राम लालपुर के लिए प्रस्थान करेंगे और वहां दोपहर 1.30 बजे आयोजित गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में शामिल होंगे।

मुख्यमंत्री कार्यक्रम पश्चात ग्राम लालपुर से दोपहर 2.55 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा प्रस्थान कर दोपहर 3.15 बजे ग्राम मोतिमपुर (अमरटापू धाम) पहुंचेंगे और वहां आयोजित गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री शाम 5 बजे पुलिस ग्राउण्ड हेलीपेड रायपुर लौट आएंगे।

इसे भी पढ़ें:  IPL 2024 AUCTION: 333 खिलाड़ी.........10 फ्रेंचाइजी...........और 262 करोड़ रुपए...........पहली बार महिला चलाएगी हथौड़ा............IPL नीलामी के बारे में जानिए सब कुछ यहाँ

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!