LAYOFF: देश में नये साल में ताबड़तोड़ छंटनी शरू……… 15 दिनों में 48 कंपनियों ने 7528 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला

नए साल ने भले ही दस्तक दी हो, लेकिन भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए साल की शुरुआत ही बेरोजगारी की काली छाया में हो गई है. लेऑफ ट्रैकिंग वेबसाइट Layoffs.fyi के मुताबिक, साल 2024 के सिर्फ 15 दिनों में ही 48 कंपनियों ने 7,528 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है. ये आंकड़े इस बात की ओर इशारा करते हैं कि आने वाले दिन भारतीय उद्योग जगत के लिए बेहद चुनौतीपूर्ण साबित होने वाले हैं.

पिछले साल 2023 में भी तकनीकी क्षेत्र (Tech Industry) में बड़े पैमाने पर छंटनी देखने को मिली थी, जहां 1150 से अधिक कंपनियों ने कुल 260,000 से ज्यादा कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया था. इस साल की शुरुआत में ही Amazon, Google जैसी दिग्गज कंपनियों द्वारा और छंटनी की योजना बनाए जाने से चिंता और बढ़ गई है.

लेऑफ की इस लहर में सबसे ज्यादा नुकसान तकनीकी स्टार्टअप्स और ई-कॉमर्स कंपनियों को उठाना पड़ा है. हाल ही में फ्रंटडेस्क कंपनी ने सभी 200 कर्मचारियों को एक झटके में निकाल दिया, जिससे उद्योग जगत में हड़कंप मच गया. विशेषज्ञों का कहना है कि वैश्विक आर्थिक मंदी का असर भारतीय बाजार पर भी पड़ रहा है, जिसके कारण कंपनियां लागत कम करने के लिए कर्मचारियों की छंटनी का रास्ता अपना रही हैं.

इस स्थिति का सबसे ज्यादा खामियाजा उन कर्मचारियों को भुगतना पड़ रहा है, जो अचानक बेरोजगारी के दलदल में फंस गए हैं. आर्थिक सुरक्षा खोने के साथ ही उनके परिवारों का जीवन भी अनिश्चितता की गर्त में समा गया है.

इसे भी पढ़ें:  BALRAMPUR: मुख्यमंत्री ने किया तातापानी को पर्यटन स्थल घोषित............. बनेगा मास्टर प्लान, खुलेगा पर्यटन विभाग का मोटल

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!