AMBIKAPUR: शहर का तापमान 11 डिग्री से हुआ कम………….पड़ने लगी कड़ाके की ठंड……….. इस कारण से गिरा पारा

उत्तर से आ रही शुष्क हवा और इधर नमी के कारण हल्के बादलों से ठंड का असर न केवल रात में बल्कि दिन में भी हो रहा है। इससे हर दिन तापमान में कमी दर्ज की जा रही है। इस बीच शुक्रवार को शहर का न्यूनतम तापमान 10.8 डिग्री तो अधिकतम तापमान 26 डिग्री दर्ज किया गया है। आपको बता दें की सीजन में सबसे कम तापमान 19 नवंबर को 14 डिग्री था इसके बाद लगातार तापमान में गिरावट आने से दिन में भी ठंड महसूस होने लगी है। आसमान में इस बीच बादल छाने और हल्का कोहरा छाने से मौसम में नमी बढ़ गई है।

उत्तर छत्तीसगढ़ में नवंबर माह के अंतिम सप्ताह शुरू होते ही तापमान में गिरावट आने लगी है। एक सप्ताह पूर्व आसमान में बादल छाने से तापमान बढ़ गया था। इस सीजन में सबसे कम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम रहा।इस बीच बादल छटते ही तापमान में गिरावट आने लगी है। सीजन में पहली बार तापमान 10.8 डिग्री तक आ गया है।मौसम विज्ञानियों का भी मानना है कि नवंबर में तापमान आठ डिग्री से लेकर 12 डिग्री तक रहता है। गुरुवार की शाम से ही ठंडी हवा उत्तर दिशा से चलने लगी और सरगुजिहा ठंड का एहसास होने लगा था।

बीते 50 सालों के आंकड़ों के अनुसार नवंबर महीने में शहर का औसत न्यूनतम तापमान 12.8 डिग्री है। इसमें पहले पखवाड़े का औसत न्यूनतम 14 डिग्री के आसपास रहता है लेकिन इसके बाद इसमें तेजी से गिरावट होती है। मौसम में बदलाव होने से इस साल गुरुवार से न्यूनतम तापमान 12 डिग्री के नीचे आया है। इसस पहले ऊपर ही रह रहा था।

इसे भी पढ़ें:  SSC GD Constable Recruitment: कर्मचारी चयन आयोग जीडी कांस्टेबल भर्ती के 75 हजार से भी ज्यादा पदों पर हो रही है भर्ती...........आवेदन हुआ शुरू

उत्तर छत्तीसगढ़ के मैनपाट व समरी पाठ में तापमान यहां से और भी कम है। पाठ इलाके में व ग्रामीण क्षेत्रों में अलाव ही एक सहारा है। उत्तर छत्तीसगढ़ में शीतलहर के साथ कड़ाके की ठंड पड़ेगी। दिसंबर माह में सर्वाधिक ठंड पड़ने की संभावना है।

मौसम विज्ञानी अक्षय मोहन भट्ट ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवाती तूफान अब खत्म हो गया है लेकिन नमी की मात्रा अभी वातावरण में बनी हुई है। इससे अभी सरगुजा संभाग में हल्के बादल छा रहे हैं। उत्तर में कोई सिस्टम नहीं है। इससे उधर से शुष्क हवा सामान्य तरह से आ रही है। चूंकि अभी बादल छाए हैं इससे दिन में हवा के कारण ठंड महसूस हो रही है। अब इसमें लगातार कमी आने की संभावना है।

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!