SURGUJA: अयोध्यामें श्री राम लला प्राण प्रतिष्ठा के लिए जनसामान्य में अभूतपूर्व उल्लास……………….. सौहार्द्रपूर्ण ढंग से मनाए जाने शांति समिति की बैठक हुई संपन्न

22 जनवरी को अयोध्या में श्री राम लला प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर पूरे प्रदेश में उल्लास का माहौल है। इसके साथ ही जिला एवं विकासखंड स्तर पर विभिन्न भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में सरगुजा जिले में जनमानस द्वारा भी विभिन्न आयोजन प्रस्तावित हैं। जिसके मद्देनजर श्रीरामोत्सव को शांतिपूर्ण माहौल एवं सौहार्द्रपूर्ण ढंग से मनाए जाने के संबंध में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कलेक्टर श्री विलास भोस्कर की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक संपन्न हुई।

बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री सुनील शर्मा, आयुक्त नगर पालिक निगम श्री अभिषेक कुमार, अपर कलेक्टर श्री टेकचंद अग्रवाल, एसडीएम अम्बिकापुर श्री फागेश सिन्हा सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, विभिन्न धर्म के प्रतिनिधियों एवं संगठनों के पदाधिकारियों की उपस्थिति में बैठक संपन्न हुई। सभी ने श्री राम लला प्राण प्रतिष्ठा दृ रामोत्सव को शांतिपूर्ण माहौल में मनाने का आश्वासन दिया।

कलेक्टर श्री भोस्कर ने इस अवसर पर कहा कि अयोध्या में श्री राम लला प्राण प्रतिष्ठा दृ रामोत्सव के लिए जनसामान्य में अभूतपूर्व उल्लास है। प्रशासन द्वारा जनभावना के सम्मान में 22 जनवरी को स्थानीय अवकाश भी घोषित किया है। उन्होंने कहा कि भगवान श्री राम के जीवन से शांतचित्त होने की सीख ली जा सकती है। कलेक्टर ने अपील की है कि भगवान राम के इन्हीं गुणों को ग्रहण करते हुए समस्त सरगुजा वासी शांति पूर्ण वातावरण में भक्ति और उत्साह के साथ इस दिवस को मनाएं। उन्होंने कहा कि विभिन्न समितियों द्वारा इस अवसर पर जो आयोजन किए जा रहे हैं, उनके लिए आवश्यक व्यवस्था में पूर्व की भांति जिला प्रशासन द्वारा पूरा सहयोग दिया जायेगा।

इसे भी पढ़ें:  SURGUJA: दीपों की रोशनी से दमकेगा सरगुजा.............सरगुजा भांचा राम के प्रति प्रेम के रंग में सराबोर


पुलिस अधीक्षक श्री सुनील शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि पुलिस द्वारा कानून एवं सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने हेतु बल तैनात किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने आयोजन समितियों को भी अपने वालंटियर्स निर्धारित करने कहा जिससे लाइन बनाना, लोगों को व्यवस्थित करना जैसी आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने में उनका भी सहयोग लिया जा सके। उन्होंने सभी से अपील की है कि सरगुजा हमेशा ही भाईचारे की मिसाल रहा है। परंपरा को बनाए रखें। उन्होंने समिति के सदस्यों और युवाओं को शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने में सक्रिय सहभागिता निभाने अपील की है।


बैठक में नगर निगम आयुक्त श्री अभिषेक कुमार ने स्वच्छ तीर्थ अभियान की जानकारी देते हुए सभी जनप्रतिनिधियों और गणमान्य नागरिकों से इस अभियान में शामिल होकर मंदिर स्थलों को स्वच्छ बनाने की अपील की। उन्होंने बताया कि निगम प्रशासन द्वारा इस अवसर चौक चौराहों में प्रकाश व्यवस्था की जाएगी।

यहां होंगे कार्यक्रम –

जिले में शासन के निर्देशानुसार जिला स्तर और विकासखंड स्तर पर किसी एक मंदिर में भव्य कार्यक्रम किया जाना है। जिसके तहत जिला स्तर पर अम्बिकापुर शहर में श्रीराम मंदिर में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसी तरह सभी विकासखंड में निर्धारित मंदिर में सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। राम वन गमन पर्यटन परिपथ में चिन्हांकित रामगढ़ में भी रामोत्सव का भव्य आयोजन किया जा रहा है। जहां दीपदान, मानस मंडलियों द्वारा गायन, और भक्तिमय सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। इसके साथ ही विभिन्न आयोजन समितियों द्वारा गांधी स्टेडियम में दीपोत्सव का वृहद आयोजन, गणपति धाम, नवापारा चर्च मैदान, राम मंदिर से शोभा यात्रा, रेलवे स्टेशन के नजदीक समितियों द्वारा वृहद स्तर पर आयोजन सहित कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें:  SURGUJA: दीपों की रोशनी से दमकेगा सरगुजा.............सरगुजा भांचा राम के प्रति प्रेम के रंग में सराबोर


सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने कार्यपालिक दंडाधिकारियों एवं पुलिस बलों की लगी ड्यूटी


रामोत्सव के अवसर पर शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने सभी चौक चौराहों एवं धार्मिक स्थलों पर कार्यपालिक दंडाधिकारियों एवं पुलिस बलों की ड्यूटी लगाई गई है। जिससे असामाजिक तत्वों पर नजर रखी जा सके। इस शुभ अवसर पर हुडदंग एवं अशांति फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई भी सुनिश्चित की जायेगी।


बैठक में जनप्रतिनिधियों, विभिन्न धर्म के प्रतिनिधियों एवं संगठनों के पदाधिकारियों द्वारा स्वच्छता बनाए रखने, ट्रैफिक और पार्किंग व्यवस्था, रामोत्सव के अनुरूप गरिमामय, सौहार्द पूर्ण ढंग से मनाने सुव्यवस्थित आयोजन, सुरक्षा हेतु बलों की तैनाती, महिलाओं की सुरक्षा हेतु महिला आरक्षकों की ड्यूटी, विद्युत की निर्बाध सुविधा, तत्काल चिकित्सा हेतु आपात व्यवस्था, अग्नि शामक यंत्रों को अलर्ट मोड पर रखने, ठेले गुमटियों को व्यवस्थित करने, उत्सव और परम्पराओं की आड़ में असामजिक तत्वों द्वारा किसी तरह की अप्रिय गतिविधि पर नजर रखने सहित विभिन्न सुझाव दिए जिसपर कलेक्टर ने प्रशासन द्वारा अनिवार्य रूप से अमल किए जाने की बात कही।


बैठक में पार्षद श्री आलोक दुबे, श्री कैलाश मिश्रा, श्री भरत सिंह सिसोदिया, श्री करता राम गुप्ता, श्री इरफान सिद्दीकी, श्री अभिषेक शर्मा, श्री अखिलेश सोनी, श्रीमती फुलेश्वरी सिंह, श्री सुधीर पाण्डेय, श्री त्रिलोक कपूर कुशवाहा, श्री अनुक प्रताप सिंह टेकाम, फादर श्री जस्टिन तिग्गा सहित शांति समिति के सदस्य एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!