AMBIKAPUR: शासन की फ्लैगशिप योजनाओं के क्रियान्वयन पर संभागायुक्त ने समस्त कलेक्टर एवं जिला पंचायत सीईओ की ली बैठक……. सरगुजा सम्भाग को अलग पहचान दिलाना हमारी प्राथमिकता, नवाचार पर फोकस कर सभी जिले सहभागिता के साथ करें कार्य-संभागायुक्त श्री चुरेन्द्र

सरगुजा सम्भाग को अलग पहचान दिलाना हमारी प्राथमिकता, नवाचार पर फोकस कर सभी जिले सहभागिता के साथ करें कार्य-संभागायुक्त श्री चुरेन्द्र

राजस्व प्रशासन, लोक प्रयोजन के मामलों, नगरीय व्यवस्था, कृषि, स्वास्थ्य एवं ग्रामीण विकास के मुद्दों पर हुई विस्तृत चर्चा

अंबिकापुर 08 फरवरी 2024/ संभागायुक्त श्री जीआर चुरेन्द्र ने गुरुवार को सरगुजा सम्भाग के समस्त जिलों के कलेक्टर एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों की बैठक लेकर शासन की फ्लैगशिप एवं शासन की अन्य सर्वोच्च प्राथमिकता योजना की क्रियान्वयन की समीक्षा की। बैठक में सरगुजा सम्भाग के सभी जिलों के कलेक्टर एवं जिला पंचायत सीईओ उपस्थित थे।

संभागायुक्त श्री चुरेन्द्र ने कहा कि सरगुजा सम्भाग को अलग पहचान दिलाना हमारी प्राथमिकता है, कार्यों में नवाचार के माध्यम से लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है। जिसके लिए संभाग के सभी जिलों के कलेक्टर एवं जिला पंचायत सीईओ सहभागिता के साथ कार्य करें। जिले के मुखिया होने के नाते आप सभी अपने जिले को बेहतर बनाने का प्रयास करें।

उन्होंने कहा कि राजस्व प्रशासन के सुदृढ़ीकरण से आमजनों को सुविधा होगी, इस हेतु प्रत्येक स्तर के राजस्व अधिकारी-कर्मचारी को कार्यों का निष्पादन ईमानदारी से करना सुनिश्चित करवाएं, प्रकरणों का निपटारा समय-सीमा में हो। कार्यों के बेहतर सम्पादन के लिए ग्राम पटेल, कोटवार, पटवारी की तिमाही बैठक आयोजित करें और कार्यो की प्रगति की समीक्षा करें। विभागीय योजनाओं के धरातल पर क्रियान्वयन की समीक्षा के लिए सम्बन्धित अधिकारी फील्ड विजिट कर वास्तविक स्थिति का अवलोकन करें। अधिकारी-कर्मचारी अपने मुख्यालय में ही निवास करें, ताकि आमजनों को सुविधा हो। उन्होंने कहा कि जिलों में राजकीय भूमि की खोज एवं संरक्षण अभियान चलाया जाए। अतिक्रमण के मामलों पर नजर रखें। लोक प्रयोजन के स्थलों का संरक्षण कर अतिक्रमण से मुक्त करना आवश्यक है, इस पर  जरूरी कार्यवाही करें। ग्रामीण स्थलों में अतिक्रमित स्थलों को मुक्त करने हेतु ऐसे स्थलों का सर्वे कर लिस्टिंग करें और ग्राम सभा मे प्रस्ताव पारित कर आवश्यक कार्यवाही करें। सभी अधिकारी पंचायती राज के सुदृढ़ीकरण पर विशेष ध्यान दें,  मनरेगा के कार्यों का लगातार जिला अधिकारियों के माध्यम से निरीक्षण करवाएं। विभागीय कार्यों की समीक्षा हेतु नियमित बैठक आयोजित करें। प्रत्येक जिले में कौशल उन्नयन क्षमता विकास हेतु प्रशिक्षण आयोजित करवाएं, जिसमें अधिकारियों को कार्य के सम्बंध में प्रशिक्षित कर कार्यक्षमता बढाएं।

इसे भी पढ़ें:  CG TRANSFER: राज्य प्रशासनिक सेवा के 18 अधिकारियों का तबादला, देखें लिस्ट

बैठक में कृषि, स्वास्थ्य एवं ग्रामीण विकास के मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की गई। संभागायुक्त ने कहा कि सरगुजा सम्भाग जनजाति बाहुल्य सम्भाग है, अपने जिले के विशेष पिछड़ी जनजाति समुदायों को शत-प्रतिशत योजनाओं से लाभान्वित करने का प्रयास करें। जिलें में स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें, समय-समय पर कार्यालयों, सार्वजनिक स्थलों, परिसरों आदि में स्वच्छता अभियान के माध्यम से आमजनों, जनप्रतिनिधियों की सहभागिता से श्रमदान करें। नशा नियंत्रण पर फोकस करें। वन संसाधन पट्टों का सत्यापन करवाएं।नगरीय व्यवस्था सुधारने हेतु आवश्यकतानुसार स्थलों का चिन्हांकन कर पौधरोपण करें, वहीं घुमन्तु पशुओं हेतु आवश्यक कार्यवाही करें। बैठक में संभागायुक्त श्री चुरेन्द्र ने शासन की फ्लैगशिप एवं शासन की अन्य सर्वोच्च प्राथमिकता योजना की क्रियान्वयन के संबंध में जिलेवार समीक्षा की।

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!