AMBIKAPUR: समय सीमा की बैठक में कलेक्टर श्री भोस्कर ने की लोकसभा निर्वाचन की तैयारियों की समीक्षा…….. उत्कर्ष कोचिंग कक्षाओं में अधिकारियों को नियमित निरीक्षण कर बच्चों को प्रेरित करने के निर्देश

नाम निर्देशन, प्रशिक्षण, स्ट्रांग रूम व्यवस्था, मतदान केन्द्रों में एएमएफ सुविधा, सुरक्षा, समस्त कार्य सुव्यवस्थित हों – कलेक्टर

अम्बिकापुर 02 अप्रैल 2024/ कलेक्टर श्री विलास भोस्कर ने कल मंगलवार को जिला कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में साप्ताहिक समय सीमा की बैठक ली। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री नूतन कंवर, नगर निगम आयुक्त श्री प्रकाश सिंह राजपूत, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री अमोलक सिंह, अपर कलेक्टर श्री सुनील नायक सहित जिले स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।


बैठक में कलेक्टर श्री भोस्कर ने सभी अधिकारियों को जिले में संचालित उत्कर्ष कोचिंग क्लासेस के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि जिले में कुल 35 शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में सुबह 8 से 11 बजे तक कक्षाएं संचालित हो रहीं हैं, उन्होंने अधिकारियों को फील्ड विजिट के दौरान इन कक्षाओं में जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लेने एवं बच्चों से मिलकर उन्हें प्रेरित करने के निर्देश दिए।


बैठक में कलेक्टर श्री भोस्कर ने लोकसभा निर्वाचन 2024 की तैयारियों के सम्बंध में विस्तारपूर्वक चर्चा की। उन्होंने निर्वाचन से सम्बंधित कार्यों के लिए अधिकारियों को सौंपे गए दायित्वों के क्रियान्वयन के सम्बंध में समीक्षा की।


अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सुनील नायक ने बताया कि ईवीएम एवं वीवीपैट का प्रथम रैण्डमाईज़ेशन 08 अप्रैल, द्वितीय रैण्डमाईज़ेशन 25 अप्रैल एवं कमीशनिंग की तिथि 26 अप्रैल निर्धारित है। कलेक्टर श्री भोस्कर ने स्ट्रांग रूम में समस्त व्यवस्था दुरुस्त किए जाने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया। जिला स्तरीय वेयर हाउस से स्ट्रांग रूम में मशीन परिवहन हेतु आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था किए जाने एवं नाम निर्देशन के समय डीएसपी स्तर के अधिकारी की ड्यूटी लगाने एएसपी को निर्देशित किया, उन्होंने कहा कि निर्वाचन के दौरान जिले में सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतेजाम हो। उन्होंने नाम निर्देशन के संबंध में कहा कि कानून व्यवस्था की दृष्टि से बेरीकेटिंग व्यवस्था, कलेक्टरेट परिसर में साफ-सफाई, स्ट्रीट लाइट, इंटरनेट व्यवस्था, विद्युत, विडियोग्राफी सहित सभी व्यवस्थाएं पूर्व में ही पूर्ण कर ली जाएं। मतदान केन्द्रों में एएमएफ सुविधा हेतु चर्चा के दौरान कलेक्टर श्री भोस्कर ने कहा कि केन्द्रों में विद्युत व्यवस्था, रैंप व्यवस्था, स्वच्छ शौचालय, पहुंच मार्ग मरम्मत किए जाने के साथ ही साथ गर्मी के मौसम को देखते हुए पेयजल हेतु मटके एवं छायादार शेड की व्यवस्था हो। उन्होंने वेब कास्टिंग हेतु चयनित मतदान केंद्र में आवश्यक मूलभूत व्यवस्था, दिव्यांग एवं बुजुर्ग मतदाताओं हेतु मतदान रथ की भी व्यवस्था किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने बीएलओ के माध्यम से शत-प्रतिशत मतदाता सूचना पर्ची वितरण करवाने के निर्देश दिए। कम्युनिकेशन प्लान के सम्बंध में कहा कि जिले में विभिन्न तहसीलों में पदस्थ पटवारी एवं आर आई की पदस्थापना की जानकारी तत्काल उपलब्ध कराएं। इसके साथ ही उन्होंने डाक मतपत्र से मतदान करने वाले मतदाताओं की अनुमानित संख्या के सम्बंध में भी चर्चा की तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

इसे भी पढ़ें:  SURGUJA SAMBHAG: लोकसभा निर्वाचन-2024: अवैध शराब पर प्रशासन सख्त, 80.50 लीटर महुआ शराब तथा 18.70 लीटर विदेशी मदिरा किया गया जब्त


बैठक में कलेक्टर श्री भोस्कर ने पीठासीन अधिकारियों एवं मतदान अधिकारियों के प्रशिक्षण के सम्बन्ध में जानकारी ली। प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रभारी अधिकारी डिप्टी कलेक्टर श्री नीरज कौशिक ने बताया की 08 अप्रैल से प्रशिक्षण की शुरुआत हो रही है, प्रशिक्षण तीन चरणों में होगा। जिसमें पी0 एवं पी01 के कुल 1965 एवं पी02 एवं पी03 के कुल 1965 कर्मी शामिल होंगे। कलेक्टर श्री भोस्कर ने प्रशिक्षण के दौरान निर्बाध विद्युत व्यवस्था, पेयजल व्यवस्था एवं भोजन व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्थाएं किए जाने के संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!