July 20, 2024 8:33 pm

AMBIKAPUR: महतारी वंदन योजना से बदलेगा जीवन, शिमला दीदी अपने बेटे को दिलाएंगी कम्प्यूटर की शिक्षा…….. महिलाओं में खुशी की लहर, 10 मार्च को महतारी वंदन सम्मेलन के तहत पहली किश्त की राशि मिलेगी खातों में

पीजी कॉलेज ऑडिटोरियम में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन, सभी विकासखंडों में भी होंगे कार्यक्रम

 महतारी वंदन योजना महिलाओं के जीवनशैली में बड़ा बदलाव लेकर आने वाला है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की गारंटी और मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय के सुशासन में महिलाओं को आर्थिक सहायता मिलेगी। योजना की पात्र सूची में नाम आने से महिलाओं में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। तो वहीं महिलाएं उन पैसों का इस्तेमाल करने की योजना भी बना  रही हैं।


लखनपुर विकासखण्ड के ग्राम पंचायत तराजू की रहनी वाली 35 वर्षीय श्रीमती शिमला चौधरी के पति गांव में ही राज मिस्त्री का काम करते हैं। उन्होंने बताया कि शादी के बाद घर-परिवार की जिम्मेदारी की वजह से आगे पढ़ाई नहीं कर पाई। घर-परिवार चलाने के लिए शिमला दीदी सीज़नल फल जैसे बेर, आम, जामुन गांव से लाकर शहर बेचती है। जिससे उनके घर-परिवार की आवश्कता पूरी होती है। उन्होंने बताया कि उनके तीन बेटे हैं जिसमें दो बेटों की शादी हो चुकी है। वहीं छोटा बेटा 12 वीं कक्षा की पढ़ाई कर रहा है। उनका कहना है कि आज के आधुनिक युग में नौकरी के लिए कम्प्यूटर जानना बहुत जरूरी है। और बेटे को अच्छा काम मिल जाए इसलिए वह अपने छोटे बेटे को कम्प्यूटर की शिक्षा दिलाना चाहती हैं। उनका कहना है कि छत्तीसगढ़ सरकार महतारी वंदन योजना के जरिए महिलाओं को आत्मनिर्भर बना रही है। इस योजना से जो उन्हें प्रति महीने एक हजार की आर्थिक मदद मिलेगी, उससे वह अपने छोटे बेटे कम्प्यूटर पढ़ाना चाहतीं हैं। जिससे उनके बेटे को अच्छी नौकरी मिल जाए। श्रीमती शिमला चौधरी ने छत्तीसगढ़ सरकार की इस सराहनीय पहल के लिए तहेदिल से आभार व्यक्त किया है।

इसे भी पढ़ें:  RASHIFAL: 10 मार्च 2024 का राशिफल......... जाने कैसा रहेगा आज का दिन और किस राशि की चमकेगी किस्मत


उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा प्रदेश की जनता को दी गई गारंटी को पूरा करते हुए राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में 01 मार्च 2024 से महतारी वंदन योजना लागू की गई है। योजना के तहत 21 वर्ष से अधिक आयु की पात्र महिलाओं को एक-एक हजार रूपए की मासिक वित्तीय सहायता दी जाएगी। इस प्रकार महिलाओं को 12 हजार रूपए वार्षिक प्राप्त होगा। योजना के तहत 10 मार्च को पहली बार सहायता राशि दी जाएगी। जिले में पीजी कॉलेज ऑडिटोरियम में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इसके साथ ही सभी विकासखंडों और नगरीय निकायों में कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। योजना से जिले में 2,33,479 महिलाएं और पूरे प्रदेश में लगभग 70 लाख महिलाएं लाभान्वित होंगी।

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!