AMBIKAPUR: शिक्षक पात्रता परीक्षा की तैयारी कर रहे डीएलएड इच्छुक छात्रों के लिए मॉक टेस्ट का हुआ आयोजन

डाईट अम्बिकापुर के प्राचार्य ने बताया कि एससीईआरटी छत्तीसगढ़  और स्टरलाईट एडइंडिया फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में डाइट अम्बिकापुर में अध्ययनरत डीएलएड छात्रों के लिए एक महत्वपूर्ण पहल करते हुए शिक्षक पात्रता परीक्षा मॉक टेस्ट का आयोजन किया गया। मॉक टेस्ट का आयोजन उन सभी छात्रों के लिए अत्यंत लाभदायक होगा जो आगामी सीटीईटी और सीजीटीईटी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त करना चाहते हैं।

मॉक टेस्ट का आयोजन शासकीय डाईट संस्थान अम्बिकापुर में मंगलवार को किया गया। आगामी सीटीईटी और सीजीटीईटी परीक्षा को ध्यान में रखते हुए इस मॉक टेस्ट के लिए  2ः30 घण्टे का समय निर्धारित किया गया था जो प्रातः 11 बजे से अपरान्ह 1ः30 के दौरान आयोजित किया गया, इसमें सीटीईटी और सीजीटीईटी दोनो परिक्षाओं के पैटर्न के अनुरूप प्रश्न शामिल किए गए। इस दौरान डाईट अम्बिकापुर के प्राचार्य श्रीमती शशि सिंह, पीएसटीई इंचार्ज श्री ओंकार नाथ तिवारी और डाईट के फैकल्टी श्री एसपी पैकरा, श्री अशोक पाण्डेय, श्रीमती पुष्पा सिंह, श्रीमती पूनम सिंह, श्रीमती मीना शुक्ला, श्री केसी गुप्ता एवं अन्य समस्त स्टॉफ मौजूद रहे और अपनी निगरानी में इस मौके टेस्ट का सफलता पूर्वक संचालन कराया।

डाईट पिं्रसिपल श्रीमती शशि सिंह ने बताया यह मॉक टेस्ट छात्रों को परीक्षा के वास्तविक स्वरूप से परिचित कराने और उनकी तैयारी का आकलन करने का उत्कृष्ट अवसर प्रदान करेगा। उन्होने आगे कहा स्टरलाईट एडइंडिया फाउंडेशन के साथ सहयोग से हम भविष्य के शिक्षकों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए लगातार प्रयासरत है। मॉक टेस्ट की अगली कड़ी में आगामी तिथि को पुनः इस तरह परीक्षा आयोजित की जाएगी ताकि छात्राध्यापक अपनी तैयारियां और सृदृढ कर पाएं। स्टरलाईट एडइंडिया फाउंडेशन  के प्रतिनिधि ने बताया कि छत्तीसगढ़ के सभी डीएलएड  संस्थानों के छात्राध्यापक इस मॉक टेस्ट में निःशुल्क भाग ले सकते है। इच्छुक छात्र इस बारे में अपने संस्थान के  पीएसटीई इंचार्ज से संपर्क कर सकते हैं।सीटीईटी और सीजीटीईटी परीक्षाओं में सफलता पाने के इच्छुक डी एल एड छात्राध्यापकों के लिए यह मॉक टेस्ट एक सुनहरा अवसर है। इससे न केवल परीक्षा के पैटर्न को समझने में बल्कि समय प्रबंधन और परीक्षा प्रबंधन कौशल को विससित करने में भी सहायता मिलेगी।

इसे भी पढ़ें:  DGHS: स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय का फार्मासिस्ट एसोसिएशनों को पत्र, एंटीबायोटिक की दवा डॉक्टरों के प्रिस्क्रिप्शन पर ही दें

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!