AMBIKAPUR: महतारी वंदन योजनाः चाय बेचकर घर-परिवार चलाने वाली कौशल्या दीदी का बिजनेस प्लान, योजना की पहली किस्त से बढ़ाएंगी अपना व्यवसाय


अम्बिकापुर 05 मार्च 2024/ महिलाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाने के लिए छत्तीसगढ़ शासन द्वारा महतारी वंदन योजना की प्रदेश भर में शुरुआत की गई। जिसका लाभ लेने महिलाओं में गजब का उत्साह देखा गया। बड़ी संख्या में नजदीकी आंगनबाड़ी में पहुंचकर महिलाओं ने आवेदन किए और अब इसका लाभ महिलाओं को मिलने वाला है।


अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आयोजित महतारी वंदन सम्मेलन में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय डीबीटी के माध्यम से महिलाओं के बैंक खाते में महतारी वंदन योजना की पहली किस्त ट्रांसफर करेंगे। इस योजना के जरिए महिलाएं आर्थिक रूप से सशक्त बनेंगी। इस योजना को लेकर महिलाओं में ख़ासा उत्साह है। चाय बेचकर अपना और अपने परिवार का भरण-पोषण करने वाली 65 वर्षीय श्रीमती कौशल्या सिंह सरकार की महत्वाकांक्षी योजना को लेकर काफी खुश नजर आई। उन्होंने बताया कि उनके घर में सात सदस्य रहते हैं। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना से उनका खुद का अपना पक्का मकान बन गया है। घर परिवार के चलाने के लिए वह जिला कोर्ट के पास फुटपाथ पर चाय स्टॉल लगाती हैं। जिससे होने वाली आमदनी से घर-परिवार और दुकान चलता है। पैसों की कमी से वह अपना व्यवसाय नहीं बढ़ा पा रही थी। महतारी वंदन योजना की जब जानकारी मिली तो उम्मीद की रोशनी मिली। उन्होंने जल्दी से फॉर्म भरकर जमा किया और अब प्रधानमंत्री मोदी की गारंटी और मुख्यमंत्री श्री साय के सुशासन में महतारी वंदन योजना से मिलने वाले पैसों का इस्तेमाल वो अपने चाय स्टॉल को आगे बढ़ाने में करेगी जिससे चार पैसों की आमदनी बढ़ेगी और घर परिवार का पालन-पोषण अच्छे से हो पाएगा। उनका कहना है कि छत्तीसगढ़ सरकार जरूरतमंद गरीब महिलाओं को आर्थिक सहायता दे रही है जिससे हम जैसी महिलाएं अपनी रोजमर्रा की जरूरत को पूरा कर पाएंगे। श्रीमती कौशल्या सिंह ने महतारी वंदन योजना के लिए प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री का तहेदिल से धन्यवाद दिया है।

इसे भी पढ़ें:  AMBIKAPUR: 1 अप्रैल से बिना फिटनेस सर्टिफिकेट के नहीं चलेंगे स्कूल वाहन, बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर कलेक्टर ने आरटीओ अधिकारी को सख्ती से जरूरी कार्यवाही के दिए निर्देश........ प्राइवेट साधनों ऑटो, रिक्शा पर भी ओवरलोडिंग को लेकर रखी जाएगी नजर


गौरतलब है कि जिले में कुल 2,33,379 महिलाओं को पहली किस्त में राशि का अंतरण किया जाएगा। जिला मुख्यालय के साथ ही सभी विकासखण्ड में भी महतारी वंदन सम्मेलन के कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। हितग्राहियों को भुगतान ऑनलाईन डीबीटी मोड में किया जाएगा।

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!