SURGUJA: मैनपाट के ग्रामीणों को उत्तरप्रदेश के बागपत में बनाया गया था बंधक…………..जिला प्रशासन द्वारा बागपत प्रशासन से किया गया तत्काल सम्पर्क………….सभी ग्रामीण सकुशल आ रहे हैं वापस

जिले के मैनपाट के ग्राम सुपलगा के लगभग 15 ग्रामीण उत्तरप्रदेश के बागपत जिले में श्रमिक के रूप में कार्य कर रहे थे। गन्ने के खेतों में श्रमिक का कार्य करने वाले इन ग्रामीणों को मालिक के द्वारा गृह जिले वापस नहीं आने दिया जा रहा था, साथ ही उन्हें मेहनताना भी नहीं दिए जाने की सूचना सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त होने पर कलेक्टर श्री कुंदन कुमार ने संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन की टीम को तत्काल आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए थे जिसपर प्रशासन की मुस्तैदी का परिणाम है कि आज ही ग्रामीणों की वापसी शुरू हो गई है।


उल्लेखनीय है कि पूरे मामले में प्रशासनिक टीम ने ततपरता के साथ बागपत प्रशासन से सम्पर्क कर मामले की जानकारी ली। पुलिस अधीक्षक श्री सुनील शर्मा ने स्वयं पुलिस अधीक्षक बागपत से बात कर श्रमिकों को सुरक्षित वापस लाने हेतु चर्चा की, वहीं संबंधित एसडीएम से नगर निगम आयुक्त श्री अभिषेक कुमार ने आवश्यक कार्यवाही हेतु चर्चा की। श्रमिकों में सुपलगा ग्राम के 19 वर्षीय रोहित, 22 वर्षीय जसमन, 20 वर्षीय संदीप, 22 वर्ष अजीत, 19 वर्षीय हरीनाथ सहित लगभग 15 लोग शामिल हैं।

कलेक्टर श्री कुंदन ने जानकारी देते हुए बताया कि सोशल मीडिया के द्वारा जानकारी प्राप्त होते ही जिला प्रशासन की टीम के द्वारा प्रयास कर बागपत प्रशासन से सम्पर्क किया गया। टीम द्वारा वहां के आला अधिकारियों से बात की है, सभी को सुविधा अनुसार वापसी की कार्यवाही की जा रही है तथा मेहनताना भुगतान के संबंध में भी बात की गई है।

जिला प्रशासन ने तत्परता दिखाते हुए सभी से सम्पर्क साधा जिसका परिणाम है कि एक ही दिन में त्वरित एक्शन लेते हुए ग्रामीणों की सकुशल वापसी कराई जा रही है।

इसे भी पढ़ें:  AMBIKAPUR: केआर टेक्निकल कॉलेज के राष्ट्रीय सेवा योजना का सात दिवसीय विशेष शिविर हुआ शुरू...........50 स्वयंसेवक समाज कार्य के साथ करेंगे अपना व्यक्तित्व विकास

क्या आपने इसे पढ़ा:

error: Content is protected !!